सहायता करे
SUBSCRIBE
FOLLOW US
  • YouTube
Loading

डीयूः 12 दिसम्बर को होने वाली एसी की बैठक स्थगित, सहायक प्रोफेसरों के विज्ञापनों की समय सीमा समाप्त

दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) में विद्वत परिषद की 12 दिसंबर को होने वाली बैठक एक सप्ताह के लिए स्थगित कर दी गई है। साथ ही डीयू की विद्वत परिषद के सदस्य प्रो. हंसराज ‘सुमन’ ने कुलपति प्रो. योगेश कुमार त्यागी को पत्र लिखकर मांग की है कि शिक्षकों की स्थायी नियुक्ति के लिए जल्द से जल्द कोरिजेंडम दिए जाएं। बता दें कि विभागों और कॉलेजों में स्थायी पदों पर शिक्षकों की भर्ती के लिए जो विज्ञापन निकाले गए थे उन पदों को समय पर ना भरने के कारण विज्ञापित पदों की समय सीमा समाप्त हो गई है। इन पदों को भरने के लिए फिर से विश्वविद्यालय व कॉलेजों को पुनः विज्ञापन न निकलना पड़े इसके लिए विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से कॉलेजों को एक सर्कुलर जारी करना चाहिए और यह निर्देश दिया जाना चाहिए कि जिन विज्ञापनों की समय सीमा समाप्त हो गई हैं उन पदों का कोरिजेंडम दिया जाये।

प्रो. सुमन का कहना है कि दिल्ली विश्वविद्यालय के कॉलेजों में लंबे समय से पढ़ा रहे एडहॉक शिक्षकों के जो विज्ञापन निकाले गए थे उन विज्ञापनों को निकाले डेढ़ साल हो रहा है, उनकी समय सीमा दिसम्बर में  समाप्त होने वाली है। विज्ञापित पदों की नियुक्ति संबंधी कॉलेजों व विश्वविद्यालय  को अपना कोरिजेंडम नहीं निकला तो जिन उम्मीदवारों ने आवेदन पत्रों के साथ आवेदन शुल्क जमा कराया हुआ है वह विश्वविद्यालय को लौटाना पड़ेगा।

कॉलेज प्राचार्यों के विज्ञापनों की समय सीमा समाप्त

प्रो.सुमन ने बताया है कि दिल्ली विश्वविद्यालय ने विभागों और कॉलेजों के विज्ञापनों की तरह कॉलेज प्रिंसिपलों के पदों के विज्ञापन निकाले गए थे। इनमें से कुछ कॉलेजों में स्थायी प्राचार्यों की नियुक्ति हो गई लेकिन अभी भी कुछ कॉलेजों में इनकी नियुक्ति नहीं हो पाई है इनमें श्री अरबिंदो कॉलेज ,श्री अरबिंदो कॉलेज (सांध्य), सत्यवती कॉलेज, सत्यवती कॉलेज(सांध्य), विवेकानंद कॉलेज, श्यामा प्रसाद मुखर्जी कॉलेज, राजधानी कॉलेज, स्वामी श्रद्धानंद कॉलेज, भारती कॉलेज आदि कॉलेज शामिल है। इनमें प्राचार्यों की नियुक्तियों के विज्ञापनों की समय सीमा समाप्त होने वाली है।

दो कॉलेजों के प्राचार्यों की नियुक्ति खटाई में

दिल्ली कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड कॉमर्स व हिन्दू कॉलेज के प्राचार्य की नियुक्ति का मामला खटाई में पड़ता नजर आ रहा है, हालांकि दोनों जगह स्थायी नियुक्ति हो चुकी है लेकिन, हिंदू कॉलेज के मामले में कोर्ट ने कहा है कि सभी के उम्मीदवारों के पॉइंट्स व स्क्रीनिंग व स्क्रुटनी में पारदर्शिता नहीं बरती गई एक एससी उम्मीदवार को साक्षात्कार में नहीं बुलाया गया और ना ही ऑब्जर्वर ही। आर्ट्स एंड कॉमर्स में प्राचार्य की नियुक्ति के बाद चेयरमैन ज्वाइन नहीं करा रहे हैं।

विद्वत परिषद की बैठक स्थगित

प्रो. सुमन ने बताया है कि विद्वत परिषद की होने वाली 12 दिसम्बर की बैठक को एक सप्ताह के लिए स्थगित कर दिया गया है। मीटिंग में यूजीसी रेगुलेशन 2018 के अलावा स्थायी नियुक्ति, प्रमोशन, एडहॉक टीचर्स की सर्विस काउंट करना, उन्हें नियुक्ति के समय इंटरव्यू में प्राथमिकता देना, एडहॉक महिला शिक्षिकाओं को मातृत्व अवकाश,कॉलेजों में प्रोफेशरशिप आदि मुद्दों को पारित किया जाना था लेकिन, इस बैठक को स्थगित कर देने से शिक्षकों के बीच तरह-तरह के सवाल उठ रहे हैं।

ये भी पढ़ें

डीयू में विद्वत परिषद की बैठक 12 दिसंबर को, शिक्षकों की नियुक्ति और पदोन्नति के लिए जल्द आ सकता है अध्यादेश

Disclaimer: इस लेख में अभिव्यक्ति विचार लेखक के अनुभव, शोध और चिन्तन पर आधारित हैं। किसी भी विवाद के लिए फोरम4 उत्तरदायी नहीं होगा।

Be the first to comment on "डीयूः 12 दिसम्बर को होने वाली एसी की बैठक स्थगित, सहायक प्रोफेसरों के विज्ञापनों की समय सीमा समाप्त"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*