सहायता करे
SUBSCRIBE
FOLLOW US
  • YouTube
  • 8
    Shares

बालाकोट एयरस्ट्राइक पर रडार और क्लाउड को लेकर बयान देकर मोदी ने क्या साबित किया?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक साक्षात्कार में ऐसा बयान दे दिया कि इस पर सोशल मीडिया पर उनकी आलोचना शुरू हो गई। साक्षात्कार में उन्होंने कहा बालाकोट एयरस्ट्राइक के दौरान उन्होंने सुझाव दिया था कि बादल और बारिश होने की वजह से भारतीय वायुसेना के विमान पाकिस्तानी रडार में आने से बच सकते हैं। मोदी के इस बयान के बाद लोग व्यंग्यात्मक टिप्पणी कर रहे हैं।

बता दें कि शनिवार को टीवी चैनल न्यूज नेशन को दिए साक्षात्कार में मोदी ने बालाकोट एयर स्ट्राइक पर कहा, ‘मैं दिन भर बहुत व्‍यस्त था। वार मेमोरियल का उद्घाटन था। चुरू में रैली करने गया था। मेरा कार्यक्रम चल रहा था। मैं टीम प्‍लेयर हूं। जिसको काम एसाइन करता हूं वो करता है। यह काम टीम ने किया था। रात को 9 बजे मैंने रिव्‍यू किया, फिर रात को 12 बजे रिव्‍यू किया। हमारे सामने समस्‍या थी कि उस समय मौसम खराब हो गया था। यह बात मैं पहली बार बोल रहा हूं। अचानक एक सुझाव मिला कि डेट बदल दें क्‍या? मैंने कहा कि इस मौसम में हम रडार से बच सकते हैं। मैंने कहा कि आसामान में बादल हैं और बारिश हो रही है। यह हमारे लिए फायदेमंद हो सकता है।’

देखें वीडियो

प्रधानमंत्री मोदी का कहना है कि बालाकोट हमले के दौरान बादलों का फ़ायदा भारतीय सेना ने तकनीक रूप से उठाया और भारतीय मिराज पाकिस्तान रडार से बच सका और लक्ष्य पर हमला करने में कामयाब हुआ।

विज्ञान में अब तक छात्रों को यह पढ़ाया जाता रहा है कि रडार किसी भी मौसम में काम करने में सक्षम होता है और यह अपनी सूक्ष्म तरंगों के जरिए विमान का पता लगा लेता है। सोशल मीडिया पर नरेंद्र मोदी की इसलिए ही खिल्ली उड़ाई जा रही है।

गौरतलब हो कि 26 फरवरी को भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने सीमा पार की और पाकिस्तान में स्थित जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी ठिकानों पर बम गिराए। यह ऑपरेशन पुलवामा में सुरक्षाबलों पर हुए हमले में 40 जवानों के शहीद होने के बाद किया गया था।

मजे की बात यह है कि प्रधानमंत्री मोदी के साक्षात्कार के इस अंश को भाजपा ने आधिकारिक ऑफिशियल टि्वटर हैंडल से ट्वीट किया गया। लेकिन बाद में इसे हटा भी लिया। अब वह भाजपा की टाइमलाइन पर नहीं है, लेकिन पार्टी ने एक मिनट का वीडियो भी शेयर किया था, जिसका कैप्शन था, ‘एयर स्ट्राइक की कहानी, पीएम मोदी की जुबानी.’ वीडियो को नहीं हटाया गया।

राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख लालू प्रसाद यादव के अधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट कर मोदी पर तंज कसा गया है। ट्वीट में लिखा है, ‘ऐ हट बुड़बक, तेरा ध्यान किधर है, रडार इधर है.’ लालू के इस ट्वीट पर लोगों की जबरदस्त प्रतिक्रिया मिल रही है।

इस पर वामपंथी नेता सीताराम येचुरी ने कहा, ‘राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ छेड़छाड़ नहीं की जा सकती। मोदी का इस तरह का गैरजिम्मेदाराना बयान बेहद नुकसानदेह है। ऐसा कोई व्यक्ति भारत का पीएम नहीं रह सकता।’

कांग्रेस ने निशाना साधते हुए कहा, ‘जुमला ही फेंकता रहा, पांच साल की सरकार में। सोचा था क्लाउडी (बादल) मौसम है। नहीं आऊंगा रडार में।’

नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने कहा, ‘पाकिस्तानी रडार बादलों में नहीं घुसते। यह सामरिक जानकारी का एक महत्वपूर्ण टुकड़ा है जो भविष्य के हवाई हमलों की योजना बनाते समय महत्वपूर्ण होगा।’ भाजपा के टि्वटर हैंडल से ट्वीट हटाए जाने के बाद उन्होंने कहा, ‘लगता है कि ट्वीट बादलों में खो गया। सौभाग्य से स्क्रीन शॉट्स मदद करने के लिए चारों ओर तैर रहे हैं।’

लोकसभा चुनाव-2019 से सम्बन्धित सभी प्रविष्टियों को पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें.

Be the first to comment on "बालाकोट एयरस्ट्राइक पर रडार और क्लाउड को लेकर बयान देकर मोदी ने क्या साबित किया?"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*