सहायता करे
SUBSCRIBE
FOLLOW US
  • YouTube
Loading

डीयू प्रवेश-2018: सर्वर डाउन रहने के बाद भी हुए काफी दाखिले

मिरांडा हाउस में कटऑफ सूची देखने आए अभिभावक व बच्चे

दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) में स्नातक पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए सोमवार देर रात जारी पहली कटऑफ के आधार पर मंगलवार सुबह से छात्रों की भीड़ लगने लगी। हालांकि डीयू की वेबसाइट में तकनीकी समस्याओं की वजह से शुरुआती घंटों में छात्रों को फॉर्म प्रिंट करने में कुछ परेशानी भी हुई, लेकिन इसके बावजूद अधिक दाखिले होने का अनुमान है।

मेट्रो स्टेशन से लेकर कॉलेज तक लगी रही भीड़  

दाखिले के लिए पहले दिन ही सभी कॉलेजों में काफी भीड़ रही। साथ ही सुबह से ही विश्वविद्यालय मेट्रो स्टेशन व सभी कॉलेजों के आसपास के मेट्रो स्टेशनों पर छात्रों की काफी चहल-पहल रही। अधिकत कॉलेजों में सबसे ऊंची कटऑफ जारी करने के बाद भी लंबी लाइन लगी रही।

विश्वविद्यालय मेट्रो स्टेशन के पास छात्र संगठनों ने हेल्प डेस्क बनाया था, जिसमें एबीवीपी, बीएसपी आदि कई संगठन छात्रों की मदद करते दिखे।

फोरम4 की टीम पहुंची मिरांडा, खास बातचीत

मंगलवार सुबह ही फोरम4 की टीम लड़कियों के कॉलेज मिरांडा हाउस पहुंची। बता दें कि इस कॉलेज की रैंकिंग भारत के सबसे बेस्ट कॉलेज के रूप में हुई है। सुबह से लेकर दोपहर 1 बजे तक छात्राओं की भीड़ लगी रही लेकिन दोपहर के बाद गिने चुने छात्र ही दिखाई दिए।

मिरांडा हाउस में कटऑफ देखते अभिभावक व बच्चे

बतौर संवाददाता अश्विनी वानखड़े और कोमल ने कॉलेज में लगे एनएसएस की हेल्प डेस्क पर बैठे छात्राओं से बातचीत कर बताया कि उन्हें शुरुआती कुछ घंटों में सर्वर डाउन होने के चलते काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। एक छात्रा ने बताया कि यहां ज्यादातर छात्राएं दाखिला कराने बिना आवेदन फार्म प्रिंट कराए ही पहुंच रही हैं, इसलिए सबसे पहले उन्हें इसे लेकर आने को कहा जा रहा है।

मिरांडा हाउस की कटऑफ पिछले साल के बराबर

नार्थ कैम्पस के मिरांडा हाउस (जोकि लड़कियों का कॉलेज है) ने विज्ञान वर्ग के लिए बीएससी ऑनर्स वनस्पति विज्ञान के लिए 95.67 फीसद, रसायन विज्ञान की 96.67, भौतिकी की 96.67 फीसद और जीव विज्ञान के लिए 95.33 फीसद कटऑफ निर्धीरित की है।

इसी प्रकार बीए ऑनर्स इकोनॉमिक्स के लिए 97.75 फीसद, अंग्रेजी की 97.50 फीसद, संस्कृत के लिए 70 फीसद, राजनीति शास्त्र में 97.00 और इतिहास के लिए 96.50 फीसद और बीए प्रोग्राम के लिए 96.50 फीसद कटऑफ है।

कहां कितने दाखिले

अभिभावक अपने बच्चों के साथ आए हुए थे। कटऑफ सूची देखने आए लोग काफी उत्साहित दिखे। यहां करीब 200 छात्राओं ने विभिन्न पाठ्यक्रमों के लिए दाखिला ले लिया है। बीए ऑनर्स इकोनोमिक्स में दूसरी सबसे ऊंची कटऑफ लिस्ट जारी करने वाले नॉर्थ कैंपस स्थित श्रीराम कॉलेज ऑफ कॉमर्स में भी पहले दिन दाखिले के लिए भीड़ रही। यहां 185 छात्रों ने दाखिले लिए। इनमें 150 ने बीकॉम ऑनर्स और 35 ने बीए ऑनर्स इकोनोमिक्स में दाखिला लिया है। रामजस कॉलेज के विभिन्न पाठ्यक्रमों में 125 छात्रों ने दाखिला सुनिश्चित करवा लिया है। हिंदू कॉलेज में भी यह संख्या 100 के पार पहुंच गई है। वहीं साउथ कैंपस के अग्रणी कॉलेज आत्मा राम सनातन धर्म कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ ज्ञानतोष झा के अनुसार पहले दिन 55 छात्रों ने दाखिला लिया है। इंद्रप्रस्थ (आइपी) कॉलेज फॉर वुमन में पहले दिन 50 से अधिक दाखिले हुए जबकि लक्ष्मीबाई कॉलेज में पहले दिन 11 छात्राओं ने दाखिला लिया। वहीं आर्यभट्ट कॉलेज में 30, राजधानी कॉलेज में 21 और श्री अरविंदो कॉलेज में 31 छात्रों ने दाखिला लिया है।

Disclaimer: इस लेख में अभिव्यक्ति विचार लेखक के अनुभव, शोध और चिन्तन पर आधारित हैं। किसी भी विवाद के लिए फोरम4 उत्तरदायी नहीं होगा।

Be the first to comment on "डीयू प्रवेश-2018: सर्वर डाउन रहने के बाद भी हुए काफी दाखिले"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*