सहायता करे
SUBSCRIBE
FOLLOW US
  • YouTube
Loading

ओपन सत्र में कोटा और इनोवेशन से संबंधित सवाल पूछने पहुंचे लोग

Credit: Google
मोनिका सिंह
दिल्ली विश्वविद्यालय में एडमिशन लेने के लिए लाखों छात्रों की भीड़ हर वर्ष उमड़ती देखने को मिलती हैं। छात्र अपने पसंदीदा कोर्स और कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए जी-जान से कोशिश करते हैं। इस वर्ष भी यह सिलसिला जारी है दरअसल डीयू में एडमिशन से संबंधित जानकारी के लिए जारी परामर्श सत्र में बुधवार को बड़ी संख्या में सेना से जुड़े लोग अपनी समस्या का हल प्राप्त करने के लिए पहुंचे। यह ओपन सत्र का तीसरा दिन था। ओपन सेशन 29 मई तक चलेगा।
सवाल पूछने सेना के जवान भी पहुंचे
इस दौरान सैनिकों के आश्रित (सीडब्लू) के कोटे से संबंधित सवाल पूछे गए। डीयू ने सीडब्लू वर्ग के आरक्षण में इस बार कई संशोधन किये है। संशोधन के अनुसार सभी कालेज में 5% सीट इस कोटे के तहत आरक्षित हैं। सीडब्लू कोटे के तहत डीयू अभी तक युद्ध क्षेत्र में शहीद और घायल होने वाले जवानों के बच्चों या विधवा, मेडल प्राप्त जवानों के आश्रितों, राष्ट्रपति पुलिस पदक प्राप्त के आश्रितों समेत कुछ अन्य श्रेणी में जवानों के आश्रितों को आरक्षण देता था, लेकिन इस बार डीयू ने पूर्व सैनिकों के आश्रितों, युद्ध के दौरान घायल होने के बाद सेवा से बाहर आए जवानों के आश्रितों, परमवीर चक्र, अशोक चक्र जैसे पुरस्कार प्राप्त सेवानिवृत्त और सेवारत सेना के जवानों के बच्चे और पत्नी को भी आरक्षण देने का फैसला किया है।
क्लस्टर  इनोवशन सेंटर में आपके लिए है खास मौका
आपका पैशन इनोवेशन है तो दिल्ली यूनिवर्सिटी का कलस्टर इनोवशन सेंटर आपके लिए हैं। दिलचस्प यह है कि इसके कोर्सों के लिए आपके 12वीं के मार्क्स नहीं बल्कि आपका एप्टीट्यूड जरूरी है । डीयू का यह सेंटर क्रिएटिविटी पर काम करने वाले खास स्टूडेंट्स के लिए है।
बता दें कि यह सेंटर अंडरग्रेजुएशन लेवल पर दो कोर्स ऑफर करता है। एक बैचलर्स ऑफ टेक्नोलॉजी और दूसरा बीए ऑनर्स प्रोग्राम। बीते कुछ सालों में इन कोर्सो की डिमांड में काफ़ी इज़ाफ़ा हुआ है। जानकारी के मुताबिक 21 जून को इन दोनों कोर्सों का एंट्रेंस एग्जाम होगा। छात्र 7 जून तक इसके लिए ऑनलाइन अप्लाई कर सकते है और जुलाई में इसका रिजल्ट घोषित किया जायेगा।
गौरतलब है अकैडमिक सेशन 2018-19 के लिए डीयू के इस सेंटर में दो प्रोग्राम के लिए एंट्रेंस एग्जाम के स्कोर के बेस पर एडमिशन होगा। एडमिशन क्राइटेरिया और सेंटर के बारे में छात्रों को पूरी जानकारी ducic.ac.in पर मिल जायेगी।
बता दें आठ सेमेस्टर के इस कोर्स के लिए 40 सीटें है। मिनिमम एलिजिबिलिटी 12वीं क्लास में 60% ( बेस्ट फोर सब्जेक्ट इंक्यूलउडिंग मैथ्स) है। छात्रों के लिए एंट्रेंस में मल्टिपल बेस्ड क्वेश्चन आएंगे। एक और जरूरी सूचना यह है कि इस कोर्स में आर्ट्स, कॉमर्स के स्टूडेंट भी अप्लाई कर सकते है, लेकिन उसके लिए 12वीं में मैथ्स जरूरी है।

Disclaimer: इस लेख में अभिव्यक्ति विचार लेखक के अनुभव, शोध और चिन्तन पर आधारित हैं। किसी भी विवाद के लिए फोरम4 उत्तरदायी नहीं होगा।

Be the first to comment on "ओपन सत्र में कोटा और इनोवेशन से संबंधित सवाल पूछने पहुंचे लोग"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*