सहायता करे
SUBSCRIBE
FOLLOW US
  • YouTube
Loading

डीयू छात्र संघ चुनावः जानिए क्या कह रहे हैं आईसा-सीवाईएसएस के उम्मीदवार

दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ (डूसू) चुनाव पर हर किसी की निगाहें टिकी हुई हैं। उम्मीदवारों की घोषणा भी की जा चुकी है। इसके बाद से चुनाव में  प्रचार कार्यक्रम और तेज हो गया है। हर दल के उमीदवार अपने-आपने तरीके से छात्रों को रिझाने की कोशिश में लगे हैं। मतदान 12 सितंबर को होने जा रहा है। इस बार के चुनाव में कई फेर-बदल देखने को मिल रहे हैं। ‘आप’ संयोजक अरविंद केजरीवाल की छात्र संघ पार्टी ‘सीवाईएसएस’ ने 2015 में हुए  हार के बाद इस बार ‘आईसा’ का दामन थाम लिया। इसके बाद से दोनों गठबंधन कर एक साथ राजनीति में उतरे हैं। आईसा पिछले कई सालों से छात्र राजनीति में अपना स्थान बनाई हुई है। हर बार अलग मुद्दों को सामने लेकर पहचान बरकार रखी है लेकिन, जीत का दारोमदार नहीं बनी। इस बार  पिछली बार के हार से सीखते हुए ‘सीवाईएसएस’  कुछ नए और अलग मुद्दों जैसे एजुकेशन रिफार्म को सामने लेकर आई है।

आपको बता दें कि डीयू छात्र संघ चुनाव में आईसा से अध्यक्ष पद पर अभिज्ञान (रामजस कॉलेज) और उपाध्यक्ष पद अंशिका सिंह लड़ रहे हैं जबकि सचिव पद पर सीवाईएसएस के चंद्रमणि देव और उप-सचिव पर पर सन्नी तंवर मैदान में हाथ आजमा रहे हैं। अध्यक्ष पद के उम्मीदवार अभिज्ञान ने बताया कि जब मैंने प्रवेश लिया तो छात्र राजनीति का केवल एक ही रूप देखा था, जो कि गुंडागर्दी और पैसों से चलता था। आईसा से मिला तो हमने विकल्प बनने का फैसला लिया। सीवाईएसएस से सचिव पद पर चुनाव लड़ रहे चंद्रमणि देव ने कहा कि मैंने देखा हैकि बाहर से आने वाले छात्रों के लिए हॉस्टल की सुविधा बेहद जरूरी है।

यदि आप और आईसा इस चुनाव में जीत हासिल करते हैं तो आने वाले लोकसभा और विधानसभा चुनाव आम आदमी पार्टी की भविष्यफल तय करेगा।

एबीवीपी और एनएसयूआई के ये हैं उम्मीदवार

एनएसयूआई के पैनल में अध्यक्ष पद प्रत्याशी सनी छिल्लर डीयू के दयाल सिंह कॉलेज से बीए की पढ़ाई करने के बाद शिवाजी कॉलेज में पढ़ाई कर रहे हैं। वहीं उपाध्यक्ष प्रत्याशी लीना डीयू के मिरांडा हाउस से बीएससी के बाद हंसराज कॉलेज से एमएससी इन मैथेमेटिक्स की पढ़ाई की है। सचिव पद के प्रत्याशी आकाश चौधरी लॉ फैकल्टी से एमए कर रहे हैं। वह वर्ष 2014 से छात्र राजनीति से जुड़े हैं। संयुक्त सचिव पद के प्रत्याशी सौरभ यादव रिवाड़ी के रहने वाले हैं। वह मोती लाल नेहरू कॉलेज में बीकॉम के छात्र हैं। उनकी प्राथमिकता छात्रों को रियायती मेट्रो पास दिलाना है।

वहीं एबीवीपी ने अध्यक्ष पद के अंकिव बसोया को टिकट दिया है। छात्रों को मेट्रो में पास और डीयू के हर कॉलेज के कैंपस में सैनिटरी नैपकिन, वेंडिंग मशीन लगाना अंकिव की प्राथमिकता में सबसे ऊपर है। उपाध्यक्ष पद के प्रत्याशी शक्ति सिंह पूर्वांचल से आते हैं और राष्ट्रीय स्तर के बॉक्सर भी रह चुके हैं।

Disclaimer: इस लेख में अभिव्यक्ति विचार लेखक के अनुभव, शोध और चिन्तन पर आधारित हैं। किसी भी विवाद के लिए फोरम4 उत्तरदायी नहीं होगा।

Be the first to comment on "डीयू छात्र संघ चुनावः जानिए क्या कह रहे हैं आईसा-सीवाईएसएस के उम्मीदवार"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*