सहायता करे
SUBSCRIBE
FOLLOW US
  • YouTube
Loading

दिल्ली विश्वविद्यालयः डोंट सपोर्ट रैगिंग बट रिपोर्ट से बनाया जा रहा रैगिंग फ्री कैम्पस

-धनन्जय 

दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) में 20 जुलाई से नए शैक्षिक सत्र की शुरुआत हो चुकी है। नए सत्र में रैगिंग रोकने के लिए डीयू प्रशासन ने इस बार भी अपनी कमर कस ली है। कई ऐसे इंतज़ामात और दिशानिर्देश जारी किए गए हैं, जिनसे कैम्पस में छात्रों की सुरक्षा पर पूरी नज़र रखी जाए। प्रॉक्टर ऑफिस के अधिकारियों ने रैगिंग रोकने के लिए दिल्ली पुलिस, डीटीसी, मेट्रो अधिकारियों के साथ बैठक की। इस बैठक में रैगिंग की घटनाओं को रोकने के लिए कड़े कदम उठाने का निर्णय लिया गया मेट्रो प्रशासन से आग्रह किया गया है कि वह ट्रेनों और स्टेशनों पर ‘दिल्ली विश्वविद्यालय रैगिंग के लिए जीरो टॉलरेंस जोन है’ के संबंध में नोटिस लगाए। कॉलेजों में एंटी रैगिंग पोस्टर भी हिंदी व अंग्रेजी दोनों भाषाओं में वितरित किए जा रहे हैं।

रैगिंग के रोकथाम के लिए, विश्वविद्यालय ने नोटिस जारी किया है। छात्रों की सुरक्षा के लिए डीयू द्वारा उठाए गए उपायों में से कुछ हैं-

कैंपस में रैगिंग को रोकने के लिए दक्षिणी व उत्तर परिसर में ज्वाइंट कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है।
महिला छात्रों के रक्षा करने के लिए, महिला पुलिस सादे कपड़ों में कॉलेजों और छेड़छाड़ होने वाले स्थान पर तैनात रहेंगी।

संवेदनशील स्थानों पर मार्शल आर्ट प्रशिक्षित महिला पुलिसकर्मियों को निगरानी रखने के लिए लगाया गया है। सुरक्षा के लिए बाहरी लोगों को कॉलेजों, केन्द्रों और हॉस्टल में प्रवेश से रोका जाएगा।
डीयू के संवेदनशील क्षेत्रों में सीसीटीवी कैमरों के द्वारा नजर रखी जाएगी। यदि किसी भी प्रकार से कोई रैगिंग करते हुए दोषी पाया गया तो उसका दाखिला रद्द कर दिया जाएगा।

रैगिंग के लिए ऐसे करें शिकायत

कॉलेजों में शिकायत पेटी हैं, जिसमें आप रैंगिंग के संबंध में लिखित शिकायत डाल सकते हैं। आप अपने नजदीकी पीसीआर वैन को भी सूचना दे सकते हैं। आप विश्वविद्यालय सूचना केंद्र में सुबह 9 बजे से 5.30  बजे शाम के बीच जाकर सूचना दे सकते हैं। आप एंटी रैंगिंग एप डाउनलोड कर सकते हैं।

24 घंटे यूजीसी एंटी रैगिंग हेल्पलाइन : 1800-180-5522

नॉर्थ कैंपस संयुक्त कंट्रोल रूम -: 27667221

साउथ कैंपस संयुक्त कंट्रोल रूम : 24119832

100 नंबर पर पीसीआर वैन को फोन करें।

ईमेल : proctor@du.ac.in

infocentre@du.ac.in

कैम्पस को पोस्टर फ्री बनाने का भी प्रयास

दिल्ली और डीयू कैम्पस को पोस्टर फ्री बनाया जाएगा। इसके लिए प्रशासन ने कड़े इंतजाम किए हैं। डीयू की वेबसाइट पर बकायदा नोटिस भी जारी किया गया है।

 

Disclaimer: इस लेख में अभिव्यक्ति विचार लेखक के अनुभव, शोध और चिन्तन पर आधारित हैं। किसी भी विवाद के लिए फोरम4 उत्तरदायी नहीं होगा।

Be the first to comment on "दिल्ली विश्वविद्यालयः डोंट सपोर्ट रैगिंग बट रिपोर्ट से बनाया जा रहा रैगिंग फ्री कैम्पस"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*