SUBSCRIBE
FOLLOW US

कहानी

खेत बचे ही कहां…

राजेश पिछले कई सालों से कॉलेज व सरकारी नौकरी की परीक्षाओं की तैयारी के लिए घर से दूर दूसरे राज्य में रह रहा था। आठ साल बाद वह अपने घर लौटा। राजेश का रिहायशी इलाका…

पूरी खबर पढ़ें

सोने के सिक्के

रोहन ओर प्रीतो की अच्छी दोस्ती थी, दोनों हमेशा एक दूसरे का साथ देते थे हर परिस्थिति में, जल्द ही ये दोस्ती प्यार में भी बदल गयी। दोनों में किसी को भी किसी चीज की…


मेरी कलम की गुस्ताखी- “मुट्ठीभर खुशी”

अलसाई धुंधली सुबह के बाद बड़े दिन हुए चमकीली धूप निकली। लग रहा था कि कितने दिनों की नींद से ये कूनो का जंगल सोकर उठा है। ओस ने नहला के इसे राजा बेटे सा…


नेताओं के कोर्ट में हनुमान का मुकदमा

कई दिनों से हनुमान बड़े ही चिंताग्रस्त दिखाई दे रहे थे। भोजन को लेकर उत्साहित रहने वाले हनुमान अनमने ढंग से थोड़ा बहुत खाते और मां अन्नपूर्णा का शुक्रिया अदा कर उठ जाते। भगवान राम…