SUBSCRIBE
FOLLOW US

महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती पर नुक्कड़ नाटक के साथ राष्ट्रीय स्वच्छता दिवस मनाया

नई दिल्ली। 2 अक्टूबर को पूरे देश में गांधी जी के सम्मान में 150 वीं जयंती के उपलक्ष्य में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इसी क्रम में ONGC (ऑयल एंड नेचुरल गैस कॉरपोरेशन) की ओर से सेफ एप्रोच के संयुक्त सहयोग से एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम मेंONGC के प्रमुख समन्वय एचपी सिंह मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद थे। दिल्ली के मंडी हाउस के पास एलटीजी ऑडिटोरियम, कोपरनिकस मार्ग में इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया था।

इस आयोजन का उद्देश्य “सिंगल यूज़ प्लास्टिक” का उपयोग ख़त्म करने के लिए जागरूकता फैलाना रहा। कार्यकर्म में गाँधी जी के सम्मान में एक नाटक का भी आयोजन किया गया जिसमे उनके संघर्ष और स्वच्छता के बारे में उनके विचारों को दिखाया गया क्योंकि उस समय केवल एक वही थे जिन्होंने स्वच्छ भारत का सपना देखा था। महात्मा गाँधी के अनुसार “जब तक आप झाड़ू और बाल्टी अपने हाथों में नहीं लेते हैं, तब तक आप अपने शहर को स्वच्छ नहीं बना सकते हैं।”

इस कार्यक्रम में ईको-फ्रेंडली स्टेशनरी किट लान्च किया गया जो कि पर्यावरण के हित में है। विकलांग बच्चों को उनके प्रयोग के लिए उपकरण प्रदान किये गए। से नो टू सिंगल यूज़ प्लास्टिक और स्वच्छता पर नुक्कड़ नाटक दिखाया गया। इसके द्वारा दर्शको को प्लास्टिक के हानिकारण प्रभावों के बारे में बताया गया और यह आग्रह किया गया कि प्लास्टिक की जगह ईको-फ्रेंडली सामग्रियों की ओर अग्रसर हो। कार्यक्रम को ONGC के प्रमुख समन्वय एचपी सिंह ने वहा उपस्थित दर्शको को सम्बोधित करते हुए सिंगल यूज़ प्लास्टिक का उपयोग न करने का आग्रह किया। कार्यक्रम में ONGC केअन्य वरीष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे। जनता को प्लास्टिकका उपयोग न करने पर जागरूक करने के लिए हस्ताक्षर अभियान चलाया गया।

इस कार्यक्रम में दिल्ली CSR की इंचार्ज शशि प्रसाद ने ONGC  द्वारा दिल्ली और NCR में ONGC के माध्यम से कार्यान्वित प्रोजेक्ट के बारे में अपने विचार व्यक्त किये। स्वच्छता का सन्देश देते हुए वॉकथाँन का भी आयोजन किया गया, जिसका फ्लैगऑफ ओएनजीसी के वरिष्ठ अधिकारी ने किया।

स्वच्छ भारत अभियान

स्वच्छ भारत अभियान या स्वच्छ भारत मिशन भारत में 2014 से 2019 की अवधि के लिए राष्ट्रीय अभियान है, जिसका उद्देश्य भारतीय शहरों, कस्बों अथवा ग्रामीण क्षेत्रों की सड़कों और इंफ्रास्ट्रक्चरको साफ करना है। अभियान का ऑफिशियल नाम हिंदी में है अंग्रेजी में जिसका अनुवाद “नीट एंड टाइडी इंडिया मिशन” है। स्वच्छ भारत अभियान के उद्देश्यों “खुले में शौच को समाप्त करना और शौचालय के उपयोग की निगरानी में एक जिम्मेदार तंत्र को स्थापित करना शामिल है”। भारत सरकार द्वारा चलाया गया यह मिशन 2 अक्टूबर 2019 तक भारत कें ग्रामीण क्षेत्रों में 100 मिलियन शौचालयों का निर्माण करके भारत को “खुले में शौच मुक्त” (ओडीएफ) भारत बनाने का लक्ष्य रखता है।

Be the first to comment on "महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती पर नुक्कड़ नाटक के साथ राष्ट्रीय स्वच्छता दिवस मनाया"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*