सहायता करे
SUBSCRIBE
FOLLOW US
  • YouTube
  • 46
    Shares

Live- दिल्ली समेत कई राज्यों की सीमाएं बंद, जनता कर्फ्यू के दिन से कोरोना को लेकर बड़े बदलाव

चीन के वुहान शहर से फैले कोरोना वायरस पूरी दुनिया में फैल चुका है। विश्वभर में करीब तीन लाख लोग इस महामारी की चपेट में आ चुके हैं और करीब 11 हजार लोगों की मौत हो चुकी है। भारत में भी लगातार कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है।  इसके साथ ही संक्रमण के कुल मामले भी बढ़कर 360 हो गए हैं। सात लोगों की अब तक मौत हो चुकी है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की ओर से दिल्ली को लॉकडाउन करने का फैसला किया है। साथ ही यूपी के 15 जिलों में भी लॉकडाउन है। इससे पहले रेलवे व दिल्ली में मेट्रों की सेवाएं 31 मार्च तक स्थगित है।

दिल्ली की सीमाएं 31 मार्च तक बंद

23 मार्च को सुबह छह बजे से दिल्ली की सभी सीमाएं सील कर दी जाएंगी और यह 31 मार्च की रात 12 बजे तक लागू रहेगा। इस दौरान देश की राजधानी दिल्ली में पब्लिक ट्रांसपोर्ट जैसे निजी बसें, टैक्सी, ऑटो, ई-रिक्शा और मेट्रो 31 मार्च तक बंद रहेगा। इसके अलावा सरकार ने 31 मार्च तक सभी यात्री ट्रेनों, बसों और फ्लाइट्स को रद्द करने का फैसला लिया है।

इसके साथ सभी निजी कंपनियां बंद रहेंगी। कंपनियो के बंद रहने के दौरान उनमें काम करने वाले लोगों की तनख्वाह नहीं काटी जाएगी। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अगर कोई कंपनी तनख्वाह काटती है हम उस पर कार्यवाई करेंगे। दिल्ली में डीटीसी की 25 फीसदी बसें चलेंगी। सभी दुकानें, बाजार, फैक्ट्री बंद रहेंगे। उन सीमाओं को छूट मिलेगी, जहां से दूध और सब्जियां जैसा जरूरी सामान आता है।

जारी रहेंगी ये सुविधाएं

अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि दिल्ली में सभी राशन की दुकानें, मेडिकल स्टोर, पुलिस सेवाएं, अस्पताल, बिजली दफ्तर, जल बोर्ड, फल सब्जियों की दुकानें खुली रहेंगी। सभी से निवेदन किया गया है कि सभी लोग घरों में रहें। कम से कम घर से बाहर निकलें।

यूपी के 15 जिलों में भी लॉकडाउन

भारत में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने 22 मार्च को पूरे भारत में लोगों से जनता कर्फ्यू का पालन करने की अपील की थी। आज कोरोना के 26 नए मामले सामने आए हैं। संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 341 हो गई है। गुजरात और बिहार में भी कोरोना वायरस से दो लोगों की मौत हो गई है। यूपी के 15 जिलें लखनऊ, बनारस, गोरखपुर, कानपुर, मेरठ, बरेली, आगरा, प्रयागराज, गाजियाबाद, नोएडा, अलीगढ़, सहारनपुर, लखीमपुर, आजमगढ़ और मुरादाबाद 25 मार्च तक लॉकडाउन रहेंगे। इन सभी जिलों को सैनिटाइज किया जाएगा। बिहार भी 31 मार्च कर लॉकडाउन रहेंगा।

बिहार में लॉकडाउन

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि बिहार के सभी ज़िला मुख्यालयों, नगर पंचायतों और प्रखंड मुख्यालयों में लॉकडाउन लागू किया जाएगा।

देश के दूसरे राज्यों जैसे छत्तीसगढ़, पंजाब में भी लॉकडाउन कर दिया गया है।

लोगों ने किया जनता कर्फ्यू का पालन

लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने 22 मार्च को लोगों से जनता कर्फ्यू का पालन करने की अपील की थी। उन्होंने सभी को घर में रहने की सलाह दी थी। 22 मार्च को शाम 5 बजे लोगों को प्रधानमंत्री मोदी की अपील पर थाली, घंटियां और शंख बजाकर डॉक्टरों का शुक्रिया अदा करने के लिए कहा था। लेकिन लोग 5 बजे से पहले ही थाली, घंटियां और शंख बजाते दिखे। पहली बार देश में इस तरह का नजारा देखने को मिला। प्रधानमंत्री मोदी ने इसके लिए लोगों को धन्यवाद दिया।

 

उन्होंने कहा कि आज का जनता कर्फ्यू भले ही रात 9 बजे खत्म हो जाएगा, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हम सेलिब्रेशन शुरू कर दें। इसको सफलता न मानें। यह एक लम्बी लड़ाई की शुरुआत है। आज देशवासियों ने बता दिया कि हम सक्षम हैं, निर्णय कर लें तो बड़ी से बड़ी चुनौती को एक होकर हरा सकते हैं।

एनपीआर अप्रैल से नहीं होगा शुरू, जल्दी ही आधिकारिक घोषणा

कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनपीआर) का काम फिलहाल अनिश्चितकाल के लिए रोका जा सकता है। एनपीआर और जनगणना 2021 के पहले चरण का काम एक अप्रैल से शुरू होना था। अधिकारियों के मुताबिक इसकी आधिकारिक घोषणा एक या दो दिन में कर दी जाएगी। सरकार में एनपीआर और जनगणना 2021 लेकर उच्च स्तरीय चर्चाएं चल रही हैं और कोरोना वायरस के प्रभाव की वजह से यह काम आगे बढ़ाया जा सकता है। बता दें कि एनपीआर, हाउस लिस्टिंग और जनगणना 2021 का काम एक अप्रैल से 30 सितंबर के बीच होना था।

ये भी पढ़ें

कोरोना वायरस से अभी तक देश में क्या-क्या हुआ?

22 मार्च को देश में ‘जनता कर्फ्यू’, प्रधानमंत्री मोदी ने लोगों को घर में रहने की अपील की

 

 

 

Be the first to comment on "Live- दिल्ली समेत कई राज्यों की सीमाएं बंद, जनता कर्फ्यू के दिन से कोरोना को लेकर बड़े बदलाव"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*