सहायता करे
SUBSCRIBE
FOLLOW US
  • YouTube
Loading
  • 336
    Shares

महिला दिवस विशेष : इस तरह के निवेश से आगे बढ़ सकती हैं महिलाएं

देश में मोबाइल क्रांति, बदलते परिदृश्य एवं वर्तमान दौर में अपनी सामान्य परिधि के पार जाते हालातों के मद्देनज़र आधी आबादी (स्त्रियों) के जीवन को सुगम बनाने के लिए महिलाओं एवं पुरुषों को कुछ प्रयास करने होंगे। स्त्रियों एवं पुरुषों में एक दूसरे के सह-अस्तित्व की ससम्मान स्वीकार्यता को बढ़ावा देने के लिए आवश्यक है कि पुरुष महिलाओं के प्रति एवं महिलाएं महिलाओं के प्रति सकारात्मक, समझदारी भरा रुख़ अपनाएं। घर, दफ्तर में घटने वाली किसी भी अवांछित घटना के प्रति एक-दूसरे के सहयोगी बनने के सार्थक रवैये के साथ साथ ज़रूरी हो चला है कि परिवार में बच्चियों, युवतियों एवं महिलाओं के सुरक्षित एवं सुगम जीवन के लिए अभिभावक,परिवारजन या माता-पिता कुछ निवेश करें।

निवेश सावधानी का

देश में घटित होने वाले बलात्कार, शारीरिक शोषण और मानसिक व दैहिक प्रताड़ना के अनगिनत मामलों में पीड़िता के जान पहचान के सदस्य ही आरोपी की भूमिका में पाए जाते हैं। बालिकाओं से बढ़ते अपराधों के दौर में माता पिता एवं अभिभावकों को इस पर चौकन्ना रहना चाहिए कि चौक चौराहों या सुनसान राहों के किसी मनचले, स्कूल कॉलेज कोचिंग में मिलने वाले किसी जाने पहचाने, आस पड़ोस या रिश्तेदारी में किसी अपने से तो उनकी बालिका को खतरा नहीं? अभिभावक या माता पिता अपनी बच्चियों की सुरक्षा के इस निवेश को जागरूक एवं सतर्क रहकर गंभीरता से अपनाएं।

निवेश सेहत का

परिपक्व होती उम्र में भी स्त्रियों को संतुलित आहार, एक्सरसाइज व योग में भाग लेने के लिए प्रेरित करते परिवारजन स्त्रियों के लिए एक स्वस्थ शरीर बनाते हैं तो वहीं किशोरियों के लिए स्वास्थ्य में मेंस्ट्रुअल साईकल, पर्सनल हाइजीन पर ध्यान ज़रूर दें और दिक्कत महसूस होने पर डॉक्टर तक जाने मे संकोच न करें। सेहत पर किया हुआ यह निवेश स्वस्थ शरीर के रूप में जीवन भर साथ चलेगा।

निवेश शिक्षा का

आधुनिकता के इस दौर में जहां देश में कई महिलाएं सेना और पुलिस की कमान संभाल रही हैं एवं उच्च पदों पर कार्य कर रही हैं वहीं आज भी कई ऐसी बालिकाएं हैं जो शिक्षा से महरूम हैं। माता पिता अथवा अभिभावकों को जवाबदारी पूर्वक यह प्रयास करना चाहिए कि उनकी बेटी कम से कम 12वीं, ग्रेजुएट के स्तर तक अवश्य पढ़े ताकि भविष्य में वह अपने पैरों पर खड़ी हो सके और उसका जीवन कम संघर्ष में गुज़रे। ज़िन्दगी के अच्छे बुरे समय में वह शिक्षा के इस निवेश के बल पर अपना जीवनयापन कर सके।

निवेश कौशल का

अभिभावकों को चाहिए कि वे बच्चियों के कौशल पर विशेष ध्यान दें। माता पिता के अपनेपन व सहयोग का निवेश ऐसा हो कि उनकी बालिका को ज़्यादा से ज़्यादा क्षेत्रों की जानकारी हो और उससे डील करने का हुनर भी जाने। बच्चियों को घरेलू स्तर तक सीमित ना करते हुए माता पिता को अपने कार्यक्षेत्र, दफ्तर, बाज़ार, बिज़नेस के अनुभव उनसे साझा करने चाहिए और प्रारंभिक तौर पर ज़िम्मेदारियां भी देनी चाहिए जिससे वे कुछ नया सीख सकें और उनके कौशल विकसित हों।

निवेश अनुभव का

अनुभव वो पन्ने होते हैं जिनमें ज़िन्दगी का अच्छा बुरा सबकुछ लिखा हो जाता है यही अनुभव आने वाले समय में व्यक्ति को स्थितियों परिस्थितियों में उचित व्यवहार करने में मदद करते हैं। नए अनुभवों का जुड़ना निरंतर प्रक्रिया है। अपने अनुभवों से सीखकर व्यक्ति यह कोशिश करता है कि वह पुरानी गलती न दोहराए और कम से कम रुकावटों से होते हुए सफल बने। माता पिता अथवा अभिभावकों को चाहिए कि वे ज़िन्दगी में अपने अनुभवों के ज़रिए अपनी बालिका के अनुभव विकसित करने में मदद करें। जो उन्होंने ज़िन्दगी में अबतक देखा और सीखा है समय समय पर ज़रूरत अनुसार अपनी बेटी से अपने अनुभव साझा करें ताकि वो उनसे सीख सके। माता पिता का अनुभव का यह निवेश उनकी बालिका की राह सुगम करने में सहायक ज़रूर साबित होगा।

आर्थिक निवेश

माता पिता को अपनी बालिका के लिए आर्थिक निवेश करके उसके भविष्य को सुदृढ़ करना चाहिए। बालिका की छोटी उम्र में उसके नाम पर किया गया एफडी, रुपये जमा करने, प्लॉट, मकान लेने का निवेश समझदार बनने पर उसके काम आएगा। ज़िन्दगी में घटने वाली अच्छी बुरी परिस्थितियों में बेटी के लिए परिवार द्वारा किया गया यह आर्थिक निवेश उसके लिए सहायक बनेगा और उसके जीवन को स्थायित्व देने में मददगार होगा।

नोट : इस लेख में लेखिका के निजी विचार समाहित हैं। फोरम4 इसकी पुष्टि नहीं करता न ही इसके लिए उत्तरदायी है।

Disclaimer: इस लेख में अभिव्यक्ति विचार लेखक के अनुभव, शोध और चिन्तन पर आधारित हैं। किसी भी विवाद के लिए फोरम4 उत्तरदायी नहीं होगा।

About the Author

आयुषी खरे
लेखिका आयुषी खरे चार पुस्तकें प्रकाशित कर चुकी हैं एवं सामाजिक मुद्दों पर स्वतंत्र विचार प्रेषित करती हैं

Be the first to comment on "महिला दिवस विशेष : इस तरह के निवेश से आगे बढ़ सकती हैं महिलाएं"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*